सर्वर क्या होता है और यह डाउन क्यों हो जाते है ?

0
182

सर्वर क्या होता है और यह डाउन क्यों हो जाते है ? 2022

सर्वर क्या होता है और यह डाउन क्यों हो जाते हैं ?
नमस्कार दोस्तों आपका हमारी वेबसाइट पर स्वागत है आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि सरवर क्या होता है और यह डाउन क्यों हो जाते हैं। आपने सरवर का नाम तो जरूर सुना ही होगा और अधिकतर आप बैंक में या कोई भी सरकारी फॉर्म की वेबसाइट यूज करते हैं तो आपने सरवन डाउन का नाम तो जरूर सुना ही होगा। तब आपके दिमाग में यह विचार आते होंगे कि यह सर्वर क्या होता है और यह डाउन क्यों हो जाते हैं।

तो दोस्तों अगर आपके मन में यह सवाल चल रहा है और आप इन सभी सवालों का जवाब प्राप्त करने के लिए हमारी इस पोस्ट पर आए हैं। तो हम आपको निराश नहीं करेंगे और बहुत ही कम समय के अंदर आपको सरवर के बारे में विस्तार से बताएंगे चलिए दोस्तों आगे बढ़ते हैं।

जो लोग टेक्निकल फील्ड में काम करते है उनके लिए सरवर नॉर्मल बात होती है अगर आप टेक्निकल फील्ड में काम नहीं करते हैं। और आप टेक्निकल फील्ड के नहीं है और सरवर के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही बेहतर साबित रहेगा क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको सरवर से जुडी हुई सारी डिटेल विस्तार से बताने वाले हैं।

सर्वर क्या होता है ?

अगर हम आपको सरवर के बारे में टेक्निकली तरीके से बताएं तो शायद आपको यह ब्लॉग फॉलो करने के बाद और इस पोस्ट को पढ़ने के बाद शायद आपके समझ में ना आए। इसलिए सरवर के बारे में समझाने के लिए हम यहां पर आपके सामने एक वास्तविक जीवन के उदाहरण को लेकर आए हैं ताकि आपको हमारी यह पोस्ट फॉलो करने के बाद आप सरवर के बारे में अच्छी तरीके से समझ सके।

मान लेते हैं आप कहीं भी ट्रैवल करने के लिए गए हैं या फिर आप होटल या रेस्टोरेंट में जाते हैं और वहां पर अपनी मनपसंद का खाना ऑर्डर कर देते है। फिर होटल में जो बैटर कार्य करता है वह अपने स्टोर में जाएंगे और आपको आपकी पसंद का खाना सर्वे करते जाएंगे तो इस प्रकार से जो बेटर है। वह एक प्रकार से होटल के सर्वर हैं जो कस्टमर को उनके ऑर्डर के अनुसार खाना सर्वे करते हैं।

उदाहरण में –

जो होटल के कस्टमर हैं वह तो हम हो गए और जो इंटरनेट पर जानकारी सर्च करते हैं वह होटल के वेटर है जो हमें सर्विस प्रोवाइड करते हैं स्टोर डाटा सेंटर हैं। जहां सभी जानकारी सेव करके रखी जाती हैं ठीक इसी प्रकार से इंटरनेट की दुनिया में भी यही होता है जब भी हम कुछ भी जानकारी इंटरनेट पर सर्च कर लेते हैं। तो हमें कोई चाहिए होता है जो हमें वह सब कुछ सर्वे करके देता है।

इंटरनेट में इस कार्य को सरवर के द्वारा ही किया जाता है सरवर हाई क्वालिटी के कंप्यूटर होते हैं सरवर बहुत ही हाईपॉवर के कंप्यूटर होते हैं। और उन कंप्यूटर में ऐसे सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल कर के रखा जाता है जो सर्विस प्रोवाइड कराती हैं इन्हीं हाईपॉवर के कंप्यूटर को हमारी भाषा में सरवर कहा जाता है। तो दोस्तों शायद अब आपकी समझ में आ गया होगा कि सरवर क्या होता है अब आगे की जानकारी बहुत ही ध्यान पूर्वक जानेंगे

सरवर की परिभाषा क्या होती है ?

बात करें इंटरनेट की जहां सूचना का आधाह भंडार है इन सूचनाओं की सर्विस यूजर तक करने वाले माध्यम को ही सरवर कहा जाता है।

सरवर काम कैसे करता है ?

हमने आपको ऊपर जो जानकारी बताइ है आप उसके हिसाब से यह तो समझ ही गए होंगे कि सरवर क्या होता है लेकिन यह कार्य कैसे करता है अब यह जान लेते हैं।

जब भी आप गूगल या यूट्यूब पर किसी भी अन्य सर्च इंजन में कुछ भी सर्च करने के लिए जाते हैं तो सरवर सेकेंड के अंदर ही आपके द्वारा सर्च किए जाने वाली चीज को निकाल कर देते हैं। या फिर उस से रिलेटेड जानकारी को भी आपके सामने लेकर आते हैं सरवर के काम करने की प्रणाली इस प्रकार से रहती है।

जब आपने क्वेरी को सर्च किया है तो सरवर आपकी रिक्वेस्ट को लेकर अपने डाटा सेंटर मै जाता है फिर वहां पर पहुंचने के बाद आपकी क्वेरी से रिलेटेड जानकारी लाकर आपको दिखाता है।

जैसे–

मान लेते हैं आप यूट्यूब में कोई भी वीडियो देख रहे हैं तो वह वीडियो यूट्यूब के डाटा सेंटर में स्टोर रहता है जब आप उस वीडियो को सर्च करते हैं। तो यूट्यूब का सरवर हमें वह वीडियो अपने डाटा सेंटर से लाकर दिखाता है इसी प्रकार फेसबुक पर हमारे द्वारा कई साल पहले पोस्ट किया जाता है।

या फिर हमने कोई भी पोस्ट कोई भी फोटो कई साल पहले पोस्ट कर दिया है तो वह फेसबुक के डाटा सेंटर में सेव हो जाता है। और हम चाहे उसे कितने भी समय बाद देखना चाहे उसे देख सकते हैं क्योंकि वह पहले से ही फेसबुक के डाटा सेंटर में हो जाता है। जो आपकी पोस्ट को बहुत ही अच्छी तरीके से संभाल कर रखता है आप फेसबुक के सरवर में अपने फोटो को कभी भी देख सकते हैं।

सरवर डाउन क्यों हो जाते हैं ?

जब आप कभी भी बैंक या सरकारी वेबसाइट पर देखते होंगे या आपने सुना ही होगा कि आज सर्वर डाउन चल रहे हैं तो हम यह सवाल कई बार देख चुके होंगे। कि सरवर डाउन क्यों हो जाते हैं तो दोस्तों हमने आपको ऊपर होटल के उदाहरण के जरिय आपको बताया था अब मान लेते हैं कि एकाएक उस होटल में हजारों की संख्या में लोग आ गए हैं। तो अब क्योंकि वहां काम करने वाले स्टाफ की संख्या तो फिक्स ही रहती है तो अधिक लोग आने से वहां के काम करने की व्यवस्था चरमरा जाती है ऑर्डर की सर्विस करने में काफी समय लग जाता है।

शायद दोस्तों अब आप समझ गए होंगे अगर आप नहीं समझे तो आपकी जानकारी के लिए बता दें ठीक इसी तरह इंटरनेट की दुनिया में भी होता है। इंटरनेट की दुनिया में भी सभी सरवर एक ही निश्चित कैपसिटी में रहते हैं कि वह कितना ट्रैफिक हैंडल कर सकता है।

मतलब कि एक समय में उस वेबसाइट के कितने लोग आ सकते हैं जब एकाएक उस वेबसाइट पर मिलियन में ट्रैफिक आने लगता है। या कहें उस वेबसाइट की सरवर की कैप सिटी से अधिक ट्रैफिक वेबसाइट पर आता है तो सरवर में लोड पड़ जाता है सरवर में लोड करने की वजह से साइड को खोलने में काफी समय लग जाता है। या सर्वर फेल हो जाता है सर्वर के फेल होने को ही हम सर्वर डाउन कहते हैं। यही वजह है कि सरवर डाउन हो जाते हैं।

एक नजर डालें 👉ऑनलाइन बिजनेस करने के बारे में संपूर्ण जानकारी !

एंड्राइड मोबाइल के नेटवर्क कैसे बढ़ाए ? 

मैडम जी को एक Personal Helper जरूरत है 2021 की Job वैकेंसी,

अंतिम पड़ाव

दोस्तो आशा करते हैं आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी क्योंकि आज की इस पोस्ट में हमने आप लोगों को बताया है कि सर्वर क्या होता है और सर्वर डाउन क्यों हो जाते हैं यह सब जानकारी हमने आप को उदाहरण सहित समझाइए है ताकि आपको हमारी इस पोस्ट को समझने में ज्यादा परेशानी ना हो अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आती है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले ताकि वह भी सरवर के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here